विश्व हिन्दू परिषद के कार्याध्यक्ष
माननीय डॉ0 प्रवीणभाई तोगड़िया जी का प्रेस वक्तव्य


सेतु समुद्रम् प्रोजेक्ट रद्द (कैंसिल) करने की केन्द्र सरकार घोषणा करे
तथा रामसेतु को राष्ट्रीय स्मारक घोषित करने का निर्णय ले।


नई दिल्ली, 19 अप्रैल, 2012

        सुप्रीमकोर्ट में आज रामसेतु केस की सुनवाई (हेरिंग) के दौरान केन्द्र
सरकार ने सेतु समुद्रम् प्रोजेक्ट रद्द (कैंसिल) करने का शपथपत्र
(एफिडेविट) न देकर फिर से एक बार हिन्दू विरोधी मानस का परिचय दिया है और
रामसेतु को तोड़ने का अपना पक्ष अप्रत्यक्ष रूप से कायम रखा है।
       जब देश आजाद भी नहीं हुआ था और विदेशियों का राज्य भी नहीं था तब से
हिन्दू समाज रामसेतु की पूजा करता आया है और आज भी यह स्थान  हमारे लिए
देवता है, पूज्य है।
       हमारी मांग है कि केन्द्र सरकार सुप्रीमकोर्ट में शपथपत्र (एफिडेविट)
देकर सेतु समुद्रम् प्रोजेक्ट रद्द (कैंसिल) करने की घोषणा करे एवं
रामसेतु को राष्ट्रीय स्मारक घोषित करने का निर्णय ले।

                                                                               जारीकर्ता
                                                                       विश्व हिन्दू परिषद

Comments

Popular posts from this blog

Iraqi parliament results tomorrow